नये साल की कविता-Hindi Poem on New Year

साल निकल रहा है, कुछ नया होता है..कुछ पुराना पीछे रह जाता है… कुछ ख्वाईशैं दिल मैं रह जाती हैं.. कुछ बिन मांगे मिल जाती हैं . कुछ छौड कर चले गये.. कुछ नये जुड़ेंगे इस सफर मैं .. कुछ मुझसे खफा …

Bus Pyar Ka Dariya Behta ho-New Year Hindi Shayari

कोई दुख ना हो, कोई गम ना हो, कोई आंख कभी नम ना हो, कोई दिल किसी का तोडे ना, कोई साथ किसी का छोड़े ना, बस प्यार का दरिया बहता हो काश की 2015 हम सब के लिये ऐसा …